अंड (anaD) Meaning in English

Noun

  1. 1. universe
  2. 2. an egg
  1. 2. globe
  2. 3. an egg
  3. 4. ooshpere

अंड (anaD) Meaning in Hindi

  1. 1. कस्तूरी मृग की नाभि जिसमें से कस्तुरी निकलती है
Usage

1. अंड का नाफा ही कस्तूरी मृग के अकाल मृत्यु का कारण होता है ।

Synonyms
Hypernyms
  1. 2. (पुरुष के) अंडकोष की वह ग्रंथि जिसमें से शुक्राणु निसृत होते हैं
Usage

1. अंडग्रंथि की विकृति के कारण वह पिता नहीं बन सका ।

Synonyms
Hypernyms
  1. 3. जीव-जन्तुओं में स्त्री जाति का वह जीवाणु जो पुरुष जाति के वीर्य के संयोग से नए जीव का रूप धारण करता है
Usage

1. डिंबाणु से जीव की उत्पत्ति होती है ।

Synonyms
Hypernyms
Antonyms
  1. 4. रेंड़ के बीज जो औषध के काम आते हैं और जिनका तेल रेचक होता है
Usage

1. वैद्यराज एरंड के तेल से दवा बना रहे हैं ।

Synonyms
Hypernyms
  1. 6. दूध पीकर पलनेवाले जीवों के नरों की इंद्रिय के नीचे की थैली जिसमें दो गुठलियाँ होती हैं
Usage

1. उसके अंडकोश में घाव हो गया है ।

Synonyms
Hypernyms
Hyponyms
  1. 8. एक देवता जो काम के रूप माने जाते हैं
Usage

1. कामदेव को शिव की क्रोधाग्नि का सामना करना पड़ा ।

Synonyms
Hypernyms
  1. 9. एक सृष्टिनाशक हिन्दू देवता
Usage

1. शंकर की पूजा लिंग के रूप में प्रचलित है ।

Synonyms
Hypernyms
Hyponyms
 
अंड meaning in Hindi, Meaning of अंड in English Hindi Dictionary. Pioneer by www.aamboli.com, helpful tool of English Hindi Dictionary.
 

Related Similar & Broader Words of अंड

शारीरिक अंश,  नैसर्गिक वस्तु,  पुष्पचाप,  संवत्सर,  भोलानाथ,  शम्भु,  काशीनाथ,  ग्रंथि,  द्युनिवास,  मनोज,  पंचसर,  त्रिनेत्र,  शंबरसूदन,  कामारि,  पुष्पध्वज,  शारंगपाणि,  अंगजात,  डिंबाणु,  भवेश,  इन्दुशेखर,  विश्व,  अपांग,  कपालपाणि,  चेतात्मजा,  जराभीस,  रेण्ड़,  अमानुष,  नंदिकेश्वर,  देव,  मादा जननिका,  बोड़री,  वसन्तसखा,  मुष्कर,  रागरज्जु,  मनजात,  पंचशर,  पञ्चमुख,  अम्बार,  दीर्घदंड,  अनंग,  रतिवर,  शिखंडी,  अयोनिज,  यूनिवर्स,  कुंड,  संकल्पभव,  कुसुमकार्मुक,  प्रसूनवाण,  नपराजित,  रुद्रारि,  अदित,  परंजय,  अरण्डी,  अयुग्मबाण,  अनर्थनाशी,  शारंगपानि,  शुक्र,  दैत्यारि,  अनंगी,  भूतकृत,  उमाकान्त,  भालचन्द्र,  असमवाण,  सद्य,  रुद्र,  ब्रम्हांड,  ज़ख़ीरा,  बीजवाहन,  चैत्रसखा,  कैलाश नाथ,  मादा जनन कोशा,  मनमथ,  रेड़,  अर्घेश्वर,  वसंत-बंधु,  भोला,  विषमविखिज,  अंडाणु,  गर्भाणु,  योगीनाथ,  धानकी,  कामदेव,  अंडग्रंथि,  अड़ार,  कुसुमधन्वा,  झषांक,  पिनाकी,  समर,  तुंदिका,  अण्डगन्त्रि,  पशुपति,  अमृताशन,  रेंड,  अमृतबंधु,  मादा कोश,  उमेश,  विराट्,  जटामाली,  अबलासेन,  नमुचि,  विरोचन,  श्रीज,  कोष,  कुसुमायुध,  कोश,  नाभी,  सृष्टि,  धूम्र,  नाभि,  इ,  उच्चय,  अमृततप,  अण्डाणु,  अनंगरि,  शंभु,  मधुसखा,  मधुसुहृद,  तुन्दि,  अंधकारि,  पंचमुख,  अंडकोष,  अंडकोश,  पुष्पशर,  टाल,  द्युनिवासी,  जखीरा,  नदीधर,  अम्बर,  शशिभूषण,  ढेर,  देवता,  भूतनाथ,  नाफ़,  पश,  शम्बरारि,  चित्तज,  शङ्कर,  कार्ष्णि,  लंगर,  आत्मप,  सुचिरायु,  वृषभकेतु,  डिंब,  वीरेश,  पुष्पशरासन,  अयुग्मशर,  गंगाधर,  अदेह,  आत्मज,  रजाणु,  गिरीश,  भुवनेश,  विश्वप्स,  डिम्बाणु,  कंदर्प,  यमेश्वर,  कपाली,  शंबरारि,  ब्याघ्रपुच्छ,  गौरीश,  महाक्रोध,  शशिधर,  मृत्युंजय,  एंड,  विभु,  अनन्यज,  रतिराज,  रागवृन्त,  निषद्वर,  पौधा,  अहिमाली,  गीर्वाण,  उग्रधन्वा,  अंडी,  वरीषु,  मुहिर,  अमर,  त्रिदिवेश,  अंडा,  वृषण,  शुकवाह,  भव,  चंद्रशेखर,  दीर्घदण्डक,  पार्श्ववक्त्र,  समष्टि,  रेण्ड,  जटाधारी,  मदराग,  अब्जवाहन,  अशरीर,  वैद्यनाथ,  विद्वत्,  रवीषु,  उमाकांत,  मंगलेश,  सुहृद,  अक्षतवीर्य,  असमशर,  देवाधिदेव,  गांज,  चेतोजन्मा,  गिरिनाथ,  आकाशचारी,  मनोभू,  पंचबाण,  विषमवाण,  सवर,  व्रणह,  अयोनि,  पौदा,  ग्रन्थि,  व्योमकेश,  समूह,  अंबरीष,  सुप्रतीक,  पंचानन,  पुद्गल,  अंड कोष,  अंड कोश,  अम्बरीष,  ढोढ़ी,  असुरारि,  चन्द्रशेखर,  शंकर,  मीनकेतु,  योगीश,  राकेश,  ब्रम्हाण्ड,  एण्ड,  बीज,  मधुसख,  ब्रह्माण्ड,  फाल,  पुष्पधन्वा,  वृंदारक,  कुसुमबाण,  अरण्ड,  महार्णव,  कालेश,  हृदयनिकेतन,  दीर्घदण्ड,  मदन,  फोता,  अरंड,  आगर,  निकर,  एरंड,  विरुपाक्ष,  अण्डकोष,  अण्डकोश,  भालचंद्र,  कौड़ी,  सारंग,  आशुतोष,  अधिलोक,  देवेश्वर,  अण्ड,  झषकेतु,  तुण्डिका,  रेंड़,  दनुजारि,  कुसुमेषु,  त्र्यम्बक,  वसन्तसख,  महादेव,  अमृतबन्धु,  तुंदि,  भूतेश,  मन्नथ,  सुमसायक,  इष्ट,  दैवत,  तारकेश्वर,  वातारि,  रमण,  रेंड़ी,  पुष्पपत्री,  बीया,  रागवृंत,  नागी,  डिम्ब,  सर्व,  अन्नपति,  कुसुमचाप,  ढोंढी,  वीरेश्वर,  त्रिपुरांतक,  कैलाशनाथ,  नन्दिकेश्वर,  अंबर,  पुष्पायुध,  तुन्दिका,  त्रिदिवौकस,  भूतचारी,  अण्ड-कोश,  अड़ारी,  अण्ड-कोष,  नाभ,  भट्टारक,  नाफ,  आचय,  पिनाकपाणि,  अघोरनाथ,  मीनकेतन,  अपराधभंजन,  अरिंदम,  विवुध,  अनलमुख,  दिवौका,  दीर्घदंडक,  हर,  श्रीपुत्र,  ढोंढ़ी,  शिखि,  त्रिदश,  पंचवाण,  त्र्यक्ष,  शिखण्डी,  आदितेय,  मकर ध्वज,  तुंडिका,  वसुप्रद,  प्राकृतिक वस्तु,  शृंगारजन्मा,  मीनध्वज,  मादा जनन कोशिका,  मधुसहाय,  ययी,  अक्षमाली,  भोलेनाथ,  पुष्पकेतन,  मनसिज,  शारीरिक भाग,  रागच्छन,  सुर,  आत्मजात,  जगद्योनि,  अण्ड कोष,  अण्ड कोश,  रणरणक,  देवक,  नभश्चर,  अंबार,  वसन्त-बन्धु,  अरंडी,  अंड-कोश,  पादभुज,  मधुसारथि,  वाम,  रतिनाथ,  महेश,  अंड-कोष,  शम्बरसूदन,  गंज,  रवक,  रतिनाह,  मुष्क,  त्र्यंबक,  वसंतसखा,  व्याघ्रपुच्छ,  शारंग,  सर्पमाली,  पुंग,  काम देवता,  रूपास्त्र,  ब्रह्मांड,  अण्डा,  अण्डी,  अबलाबल,  शिव,  इंदुशेखर,  सतीश,  अंबरौका,  नीलग्रीव,  त्रिपुरारि,  त्रिपुरारी,  पुंज,  एरण्ड,  स्मर,  मधुप,  वसंतसख,  भगाली,  कुण्ड,  दुष्काल,  अंगहीन,  ऋभु,  अनंगारि,  संकल्पयोनि,  ययातीश्वर,  आँड,  कील,  गंजी,  महेश्वर,  वरेश्वर,  विश्वनाथ,  वीज,  असार,  आदित्य,