अपनी ही राग आलपना (apani hi rag Alapana) Meaning in English

अपनी ही राग आलपना Sentences from Popular Quotes and Books

1. "न देवो विद्यते काष्ठे न पाषाणे न मृण्मये। भावे ही विद्यते देवस्तस्माद भावो ही कारणाम् ।। 6।। Na Devo Viddyate Kaashthe Na Paashaane Na Mrinnyamaye. Bhave Hee Viddyate Devastsmaad Bhaavo Hee Kaaranam. God doesn’t dwell in the wooden, stony or earthen idols. His abode is in our feelings, our thoughts. [It is only through the feeling that we deem God existing in these idols.]"
- B.K. Chaturvedi, Chanakya Neeti

2. "वही सन तेरह सौ पैंतालीस का साल। जाने किस गिरजे की घड़ी में यंत्रयुग के स्वागत का घंटा बजा था। किंतु किसे पता था कि एक दिन वही घड़ी मध्ययुग के महाकाल के कल्पना सौंध को जमींदोज कर देगी? घंटा, मिनट और सैकंड में महाकाल को टुकड़े- टुकड़े करके समय के क्षय का अक्षय इतिहास तैयार करेगी? महाकाल की कल्पना को चूर चूर करके शायद इसी घड़ीने पहली बार यह बताया कि आकाश चूमते गिरजे की गुम्बदे, मस्जिदों की मीनारे, मन्दिरो के शिखर न तो शाश्वत है, न सनातन । उसने बताया- धर्म , देवता और ब्राह्मणों के रौब-दाब सब कल्पना है, छलना है, सत्य है सिर्फ पांवो तले जमीन और भले-बुरे मिलावटवाले मनुष्य। 'सर्वोपरि सत्य मनुष्य है' - यह बात चंडीदास से बहुत पहले कह गई है घडी। वह कह गई, सत्य केवल मनुष्य ही नही उसके चौबीस घंटे सत्य है, चौदह सौ चालीस मिनट सत्य है, छियासी हजार चार सौ सेकंड भी सत्य है। ~ साहब बीबी गुलाम"
- Bimal Mitra, साहब बीबी और ग़ुलाम

 
अपनी ही राग आलपना meaning in Hindi, Meaning of अपनी ही राग आलपना in English Hindi Dictionary. Pioneer by www.aamboli.com, helpful tool of English Hindi Dictionary.