अपराजिता Meaning in English

अपराजिता Meaning in Hindi

  1. 2. उत्तर प्रदेश में सरयू नदी के किनारे स्थित एक हिन्दू तीर्थ स्थान
Usage

1. प्रभु राम का जन्म अयोध्या में हुआ था ।

Synonyms
Hypernyms
  1. 4. जमीन पर फैलने वाली एक प्रकार की बेल
Usage

1. अपराजिता से यहाँ की जमीन ढक गई है ।

Synonyms
Hypernyms
Hyponyms
  1. 6. एक देवी जिन्होंने अनेक असुरों का वध किया और जो आदि शक्ति मानी जाती हैं
Usage

1. नवरात्र में लोग जगह-जगह दुर्गा की प्रतिमा स्थापित करते हैं ।

Synonyms
Hypernyms
Hyponyms
 
अपराजिता meaning in Hindi, Meaning of अपराजिता in English Hindi Dictionary. Pioneer by www.aamboli.com, helpful tool of English Hindi Dictionary.
 

Related Similar & Broader Words of अपराजिता

सेतिका,  अपर्णा,  शुम्भघातिनी,  दुर्गा,  मधुकोष,  पुण्य स्थली,  वर्ण-वृत्त,  तीर्थ स्थली,  कलकंठ,  प्रगल्भा,  चामुंडेश्वरी देवी,  अरुणलोचन,  शताक्षी,  जया,  रक्तदृग,  अलि,  वज्रा,  शिवसुन्दरी,  नन्दिनी,  जगदम्बिका,  तीर्थस्थान,  वल्लिका,  चामुंडेश्वरी,  वृत्त,  पंचमास्य,  सिंहवाहिनी,  ईसानी,  ललिता,  वर्ण वृत्त,  पिक,  वर्णिकवृत्त,  वंश,  मणीवक,  मदालापी,  अलिमक,  शिगूफा,  मंगलचंडिका,  कोशल,  स्कंधा,  श्यामला,  महाश्वेता,  शारदी,  कौशिकी,  शारदा,  महाप्रकृति,  गायत्री,  वार्त्ता,  शंभुकांता,  आद्या,  काकलीख,  पीलु,  शिवसुंदरी,  भालचंद्र,  अन्यपुष्ट,  वल्लरि,  वल्लरी,  अवध,  जगन्मोहिनी,  वर्णिक छंद,  विश्वकाया,  इंद्राणी,  पुष्पक,  सारंग,  वर्णिकछंद,  बल्ली,  वेल्लि,  वर्णिक वृत्त,  वल्लि,  वल्ली,  नंदिनी,  मदनशलाका,  मधुवन,  भालचन्द्र,  तीर्थ स्थल,  रक्तकंठ,  वामदेवी,  नैऋती,  प्रसूत,  कालदमनी,  कुसुम,  नन्दा,  पुण्य स्थान,  नीलपुष्पा,  शुंभघातिनी,  कादम्बरी,  गौतमी,  फूल,  प्रसून,  वसंतव्रत,  वीरुध,  कोकिला,  स्कन्धा,  रेवती,  ताम्राक्ष,  शुंभमर्दिनी,  शुभंकरी,  रामपुरी,  तीर्थस्थल,  बेल,  शुम्भमर्दिनी,  विक्रान्त,  सुमन,  पर्वतात्मजा,  जगदंबिका,  वर्णवृत्त,  जगदंबा,  महिषासुरमर्दिनी,  चामुण्डा,  बहुभुजा,  भूतनायिका,  शम्भुकान्ता,  महापुष्पा,  वर्णिक छन्द,  वसंतदूती,  योगेश्वरी,  देवी,  मधुकण्ठ,  श्वेता,  अयोध्या,  शिताद्रिकर्णी,  महोग्रा,  मंजुनाशी,  वार्णिक छन्द,  शुद्धि,  तीर्थ-स्थल,  शांभवी,  व्रतती,  व्रतति,  हयग्रीवा,  योगीश्वरी,  वार्णिक छंद,  कोशला,  विजया,  विक्रांत,  ब्राह्मी,  पुष्प,  मधुस्वर,  श्वेतधामा,  कोकिल,  वर्णिक-वृत्त,  गुल,  गायक पक्षी,  इक्षुरसवल्लरी,  शाम्भवी,  अन्यभृत,  सौम्या,  त्रिभुवनसुन्दरी,  शिवा,  त्रिनयना,  रक्तकण्ठ,  इन्द्राणी,  लती,  लता,  वृषध्वजा,  जगन्माता,  तीर्थ स्थान,  अरुणनेत्र,  कामदूती,  अष्टभुजा,  कोयल,  कादंबरी,  नंदा,  अमृतमालिनी,  ईशानी,  वसन्तदूती,  मदनपाठक,  वरालिका,  प्रसूनक,  मातेश्वरी,  मंगलचण्डिका,  कल्याणी,  कटभी,  महायोगेश्वरी,  आदि शक्ति,  त्रिभुवनसुंदरी,  सर्वमंगला,  तीर्थ,  शिवानी,  आर्या,  अपरा,  शिफा,  पुण्य क्षेत्र,  उग्रा,  त्वाष्टी,  चामुंडा,  इड़ा,  वर्णिकछन्द,  कुहकनी,  अयोध्या नगरी,  वसन्तव्रत,  वरवर्णिनी,  अलिपक,  त्रिदशेश्वरी,  मदोल्लापी,  परमेश्वरी,  योगमाता,  महालय,  मधुकंठ,  आदिशक्ति,  पुण्य भूमि,  शिगूफ़ा,  माया,  महामाया,  साकेत,  ईशा,  शाक्री,  वैष्णवी,