अभ्र (abhra) Meaning in English

Noun

  1. 1. cloud
  2. 2. the sky

अभ्र (abhra) Meaning in Hindi

  1. 1. खानों से निकलने वाली एक कांच के समान पारदर्शक तहदार धातु
Usage

1. भारत के राजस्थान में अभ्रक अधिक मात्रा में निकलता है ।

Synonyms
Hypernyms
  1. 3. एक बहुमूल्य पीली धातु जिसके गहने आदि बनते हैं
Usage

1. आजकल सोने का भाव आसमान छू रहा है। / चैतन्य महापुरुष के शरीर से स्वर्ण जैसी आभा निकलती थी ।

Synonyms
Hypernyms
Hyponyms
  1. 4. पृथ्वी पर के जल से निकली हुई वह भाप जो घनी होकर आकाश में फैल जाती है और जिससे पानी बरसता है
Usage

1. आकाश में काले-काले बादल छाये हुए हैं ।

Synonyms
Hypernyms
Hyponyms
 
अभ्र meaning in Hindi, Meaning of अभ्र in English Hindi Dictionary. Pioneer by www.aamboli.com, helpful tool of English Hindi Dictionary.
 

Related Similar & Broader Words of अभ्र

वर्णि,  मनोहर,  सुवरन,  तार्क्ष्य,  अंब,  नैसर्गिक वस्तु,  सेंचक,  गैन,  धारावर,  अश्मकर,  भोडल,  अंभोधर,  भोडर,  त्रिनेत्र,  अभ्रपटल,  अश्म,  रसविरोधक,  अम्ब,  कांचन,  पाथोद,  सुवर्ण,  काञ्चन,  अंबुधर,  नभोध्वज,  वर्षाबीज,  शातकुम्भ,  पाथोधर,  शातकौम्भ,  कञ्चन,  धाराधर,  मतंगज,  आसमान,  दात्यूह,  शतकौम्भक,  तोक्म,  तारायण,  गगन,  अग्नि,  वातध्वज,  विहंग,  जलद,  शतखण्ड,  मेघ,  महाविल,  मेचक,  नभस्थल,  शुक्र,  वर्षुकाम्बुज,  दत्र,  रंजन,  ध्वसनि,  शतखंड,  नभोदुह,  भद्र,  अविष,  आस्माँ,  महाशून्य,  अवष्टंभ,  मेह,  फलक,  बहुपत्र,  शातकुंभ,  मेघद्वार,  पाथोदर,  अब्र,  जलधर,  अब्द,  श्वेतनील,  मतंग,  वातरथ,  असमान,  उदधि,  अबरख,  अबरक,  सुदामा,  कंचन,  अम्भोधर,  नदनु,  अंबर,  वसु,  सेचक,  शुभ्र,  कनक,  तोयधार,  नाग,  वर्षुकांबुज,  व्योम,  श्रीमत्कुम्भ,  गोल्ड,  वृजन,  शारद,  वलाहक,  मेघा,  शतकुम्भ,  अम्बुधर,  अर्बुद,  तोयद,  जलवाह,  रैवत,  गारुड़,  तड़ित्वान्,  तारापथ,  आकाश,  सुदामन,  आस्मान,  अवष्टम्भ,  श्रीमत्कुंभ,  शतकौम्भ,  शक्रवाहन,  नभ,  मरुत्,  वर्षकर,  पुरुद,  पयोद,  घन,  ख,  रजलवाह,  नभोगज,  दिव्,  नीलभ,  इंद्र,  तड़ित्वत,  अंबुद,  धाराट,  समा,  रञ्जन,  चातकनन्दन,  शतकुंभ,  धूमयोनि,  प्राकृतिक वस्तु,  वियत्,  सोना,  नभोद्वीप,  अम्बर,  अभ्रक,  त्रिदिव,  नीरद,  तड़ित्पति,  वृष्णि,  बहुमूल्य धातु,  द्यु,  दिव,  नभोधूम,  वर्षुकानन्द,  नभधुज,  तोयमुच,  नभश्चर,  स्वर्ण,  महानाद,  श्वेतमाल,  तोयधर,  पयोधर,  त्रिदशवर्त्म,  आसमाँ,  आग्नेय,  सत्रि,  अर्णोद,  तड़िद्गर्भ,  बादल,  धातु,  हिरण्य,  अर्श,  भव,  अमल,  अर्ह,  महारस,  वियत,  ज़र,  वरवर्ण,  वर्षुकानंद,  वारिद,  इन्द्र,  पयोजन्मा,  अगास,  अष्टापद,  अम्बुद,  मेटल,  मेघवेश्म,  हेम,  निर्मोक,  शतकौंभ,  नभध्वज,  सुदाम,  हाटक,  शतकौंभक,  चातकनंदन,  जलमसि,  सोमधारा,  चामीकर,  तामरस,  शातकौंभ,  वारिधर,