अशिर Meaning in English

अशिर Meaning in Hindi

  1. 2. धर्म-ग्रंथों में मान्य वे दुष्ट आत्माएँ जो धर्म विरोधी कार्य करती हैं तथा देवताओं, ऋषियों आदि की शत्रु हैं
Usage

1. पुरातन काल में राक्षसों के डर से धर्म कार्य करना मुश्किल होता था ।

Synonyms
Hypernyms
Hyponyms
Antonyms
  1. 3. जलती हुई लकड़ी, कोयला या इसी प्रकार की और कोई वस्तु या उस वस्तु के जलने पर अंगारे या लपट के रूप में दिखाई देने वाला प्रकाशयुक्त ताप
Usage

1. आग में उसकी झोपड़ी जलकर राख हो गई ।

Synonyms
Hypernyms
Hyponyms
Antonyms
 
अशिर meaning in Hindi, Meaning of अशिर in English Hindi Dictionary. Pioneer by www.aamboli.com, helpful tool of English Hindi Dictionary.
 

Related Similar & Broader Words of अशिर

वसुनीथ,  निशिचर,  आतिश,  मलिनमुख,  दाढ़ा,  नैसर्गिक वस्तु,  अलमास,  कारबन,  अंगारक,  वह्नि,  वैश्वानर,  लंबकर्ण,  राजन्य,  वज्र,  हीरक,  ध्वांतशत्रु,  ध्वान्ताराति,  विंगेश,  तपुर्जम्भ,  असुर,  हीरा,  शिखी,  ह्रस्वकर्ण,  शिखि,  अगिया,  शुचि,  लम्बकर्ण,  अमिताशन,  वरारक,  जातुधान,  परिजन्मा,  बहनी,  भारत,  तमचर,  रक्तग्रीव,  यातुधान,  वराहक,  रक्तप,  नैरृत,  जगन्नु,  प्राकृतिक वस्तु,  तनूनपाद्,  आतश,  अगिर,  कर्बुर,  वृष्णि,  तमोनुद,  आश्रयास,  अपदेवता,  पलादन,  अर्क,  नृमर,  अमानुष,  द्यु,  ध्वान्तचर,  कालकवि,  अविबुध,  तपु,  ध्वांतचर,  देवारि,  आसर,  पर्परीक,  अर्दनि,  तमोहपह,  आशर,  कुलिश,  रजनीचर,  अग्नि,  नरांश,  अगनी,  ध्वान्तशत्रु,  विश्वप्स,  तनूनपात्,  तमाचारी,  अनुशर,  लघुलय,  अभेद्य,  पलंकष,  शुक्र,  आज्यमुक,  तरन्त,  कैकस,  अगन,  दाहक,  पावक,  अनिलसखा,  रात्रिबल,  दैत,  कार्बन,  तरंत,  रात्रिमट,  हुतासन,  रेरिहान,  दानव,  आस्रप,  आगी,  आगि,  बाहुल,  सुरद्विष,  बहुमूल्य रत्न,  चित्रभानु,  रैनचर,  वर्हा,  कर्बर,  अविक,  पलाद,  निशाविहार,  हृषु,  दैत्य,  नैकषेय,  नीलपृष्ठ,  दतिसुत,  अगिन,  हीर,  निशाचर,  अय,  राक्षस,  सोमगोपा,  आग,  कीलालप,  तमीचर,  नैऋत,  यविष्ठ,  तपुर्जंभ,  वसु,  पशुपति,  हेमकेली,  जल्ह,  अगिआ,  बरही,  वज्रसार,  धरुण,  निषकपुत्र,  आकाशचारी,  अनल,  ध्वांताराति,  कीमती रत्न,  आशुशुक्षणि,  आबगीन,  त्रिदशारि,  अश्रय,  पवन-वाहन,  पुराणीय पुरुष,  पौराणिक पुरुष,  
 

Related Opposite Words (Antonyms) of अशिर

अक्षित,  विवुध,  अंध,  अनलमुख,  दैत्यारि,  अमृततप,  दिवौका,  पुष्कर,  भूतकृत,  रेतस्,  असुरारि,  अंभ,  दहनाराति,  जल,  तामर,  सलिल,  शबर,  गीर्वाण,  नलिन,  दनुजारि,  द्युनिवास,  पानी,  अमर,  त्रिदश,  त्रिदिवेश,  घनसार,  वारि,  अस्र,  कांड,  आदितेय,  वाज,  द्युनिवासी,  अमृतबन्धु,  अंबरौका,  नीर,  अर्ण,  काण्ड,  दैवत,  वृंदारक,  अन्ध,  योनि,  पय,  देवता,  तोय,  मधुप,  अंबु,  अमानुष,  अम्बु,  अपक,  देव,  सुचिरायु,  राक्षसी,  उदक,  ऋभु,  घनरस,  वसु,  त्रिदिवौकस,  सुर,  अमृताशन,  अमृतबंधु,  आब,  धरुण,  कीलाल,  आकाशचारी,  उदक्,  देवक,  शवल,  सवर,  शवर,  नभश्चर,  भट्टारक,  सवल,  इरा,  विश्वप्स,  ऋत,  नार,  आदित्य,  तपोजा,  निशाचरी,  अदित,  नीवर,