उग्रा Meaning in English

उग्रा Meaning in Hindi

  1. 1. एक प्रकार की घास जिसमें घुंडी की तरह के फूल लगते हैं
Usage

1. छिकनी के फूलों को सूँघने पर छीकें आती हैं ।

Synonyms
Hypernyms
  1. 2. एक प्रकार की घास से प्राप्त घुंडी की तरह का फूल
Usage

1. छिकनी को सूँघने पर छीकें आती हैं ।

Synonyms
Hypernyms
  1. 3. विशेषकर दलदल भूमि या नदी-नालों के किनारे पाया जानेवाला एक औषधीय पौधा
Usage

1. घोड़बच की जड़ का उपयोग खाँसी, मूत्ररोग, मानसिक रोगों आदि में किया जाता है ।

Synonyms
Hypernyms
  1. 4. एक प्रकार का छोटा पौधा जिसकी पत्तियाँ सुगंधित होती हैं
Usage

1. धनिया की चटनी पकौड़ों के साथ बड़ी स्वादिष्ट लगती है ।

Synonyms
Hypernyms
  1. 8. एक देवी जिन्होंने अनेक असुरों का वध किया और जो आदि शक्ति मानी जाती हैं
Usage

1. नवरात्र में लोग जगह-जगह दुर्गा की प्रतिमा स्थापित करते हैं ।

Synonyms
Hypernyms
Hyponyms
 
उग्रा meaning in Hindi, Meaning of उग्रा in English Hindi Dictionary. Pioneer by www.aamboli.com, helpful tool of English Hindi Dictionary.
 

Related Similar & Broader Words of उग्रा

धाना,  अपर्णा,  त्रिया,  शुम्भघातिनी,  दीपनीया,  दुर्गा,  अजवाईन,  छिंकनी,  लोगाई,  वेखंड,  प्रगल्भा,  चामुंडेश्वरी देवी,  मेहना,  कर्कशा,  बस्तमोदा,  शताक्षी,  जया,  औरत,  बीज,  बैयर,  वज्रा,  सुनन्दा,  शिवसुन्दरी,  नकछिकनी,  नन्दिनी,  जगदम्बिका,  चामुंडेश्वरी,  महावरा,  तीव,  धनियाँ,  सिंहवाहिनी,  ईसानी,  ललिता,  अजगन्धा,  क्षवक,  तृण,  वंश,  मणीवक,  छिकनी,  शिगूफा,  मंगलचंडिका,  सुनंदा,  महाश्वेता,  कौशिकी,  शारदा,  कृत्या,  महाप्रकृति,  गायत्री,  वार्त्ता,  योषिता,  शंभुकांता,  धानक,  आद्या,  वामा,  शूलहंत्री,  पीलु,  स्वर्णिका,  शिवसुंदरी,  भालचंद्र,  अपराजिता,  अजवाइन,  जगन्मोहिनी,  विश्वकाया,  अजमोदा,  इंद्राणी,  पुष्पक,  सारंग,  चण्डिका,  वच,  यवानी,  नंदिनी,  भालचन्द्र,  शतपर्विका,  झगड़ालू,  वामदेवी,  नैऋती,  प्रसूत,  उग्रा स्त्री,  मोहना,  वासिता,  रमणी,  कालदमनी,  अजमोदिका,  कुसुम,  वनिता,  उग्रगंधा,  धायक,  नन्दा,  शुंभघातिनी,  गौतमी,  फूल,  तीव्रगंधा,  प्रसून,  उग्रगन्धा,  वातारि,  कलसिरी,  धानेय,  रेवती,  बीया,  शतपर्व्विका,  शुंभमर्दिनी,  शुभंकरी,  शुम्भमर्दिनी,  सुमन,  पर्वतात्मजा,  अजमूद,  तीव्रा,  खर,  धान्याक,  जगदंबिका,  यमानिका,  ब्रह्मदर्भा,  जगदंबा,  शतपर्वा,  महिषासुरमर्दिनी,  चामुण्डा,  झगड़ालू महिला,  बीजधान्य,  बहुभुजा,  भूतनायिका,  चण्डी,  घास,  तिरिया,  अजगंधा,  शम्भुकान्ता,  नार,  जटामाँसी,  योगेश्वरी,  अल्ला,  देवी,  वस्तमोदा,  जीवा,  भामा,  महोग्रा,  जोषिता,  मंजुनाशी,  शुद्धि,  रक्ता,  तनु,  चंडी,  शांभवी,  आहार मसाला,  हयग्रीवा,  भामिनी,  यमानी,  योगीश्वरी,  विजया,  मानुषी,  ब्राह्मी,  पुष्प,  गुल,  घोड़बच,  तीव्रगन्धा,  शाम्भवी,  सौम्या,  हस्ती,  त्रिभुवनसुन्दरी,  शिवा,  त्रिनयना,  इन्द्राणी,  कलहारी,  अबला,  बच,  वृषध्वजा,  शिखिमोदा,  जगन्माता,  धन्याक,  वचा,  अष्टभुजा,  शाद,  नंदा,  अमृतमालिनी,  ईशानी,  स्त्री,  वरालिका,  प्रसूनक,  मातेश्वरी,  मंगलचण्डिका,  महिला,  कल्याणी,  लड़ाकी,  कर्कशा महिला,  शस्य,  पौधा,  धान्यक,  चंडिका,  वासुरा,  भूतिक,  महायोगेश्वरी,  आदि शक्ति,  कलहिनी,  त्रिभुवनसुंदरी,  सर्वमंगला,  धनिया,  ज़न,  शिवानी,  आर्या,  यूका,  नकछिंकनी,  अजवायन,  अपरा,  मसाला,  मानवी,  बचा,  अजमोद,  अवारिका,  तीक्ष्णफल,  त्वाष्टी,  चामुंडा,  भाम,  मिषिका,  इड़ा,  चित्रा,  वरवर्णिनी,  तुंबुरु,  तुंबुरी,  तिय,  शूलहन्त्री,  तीव्रगन्धिका,  अल्लामा,  त्रिदशेश्वरी,  लुगाई,  परमेश्वरी,  योगमाता,  तुम्बुरी,  अंगना,  तुम्बुरु,  आदिशक्ति,  तीव्रगंधिका,  नारी,  दीपनी,  शिगूफ़ा,  माया,  महामाया,  वीज,  ईशा,  पौदा,  शाक्री,  वैष्णवी,  कर्कशा स्त्री,  धान्या,