गायत्री (gayatri) Meaning in English

Noun

  1. 1. hive
  1. 2. hindu goddess

गायत्री (gayatri) Meaning in Hindi

  1. 1. चौबीस अक्षर और तीन चरणों का एक वैदिक छंद
Usage

1. गायत्री चारों वेदों में है ।

Hypernyms
  1. 2. एक वैदिक मंत्र जो बहुत ही पवित्र माना जाता है
Usage

1. मेरी माँ प्रतिदिन गायत्री मंत्र का जाप करती है ।

Synonyms
Hypernyms
  1. 3. भारत की एक प्रधान नदी जिसको धर्म ग्रंथों में मोक्षदायिनी कहा गया है
Usage

1. धर्म-ग्रंथों के अनुसार राजा भगीरथ ने गंगा को स्वर्ग से पृथ्वी पर उतारा ।

Synonyms
Hypernyms
  1. 4. एक देवी जिन्होंने अनेक असुरों का वध किया और जो आदि शक्ति मानी जाती हैं
Usage

1. नवरात्र में लोग जगह-जगह दुर्गा की प्रतिमा स्थापित करते हैं ।

Synonyms
Hypernyms
Hyponyms
 
गायत्री meaning in Hindi, Meaning of गायत्री in English Hindi Dictionary. Pioneer by www.aamboli.com, helpful tool of English Hindi Dictionary.
 

Related Similar & Broader Words of गायत्री

मंत्र,  अपर्णा,  त्रिधारा,  शुम्भघातिनी,  धर्मद्रवी नदी,  दुर्गा,  वहती,  सरिता,  प्रगल्भा,  अध्वगा नदी,  चामुंडेश्वरी देवी,  नदी,  तरंगवती,  शताक्षी,  जया,  त्रिमार्गगा,  ह्रदिनी,  वज्रा,  शिवसुन्दरी,  नन्दिनी,  जगदम्बिका,  चामुंडेश्वरी,  सिंहवाहिनी,  ईसानी,  ललिता,  त्रिपथगा,  गंगा नदी,  सुरसरि नदी,  मंगलचंडिका,  कूलवती,  महाश्वेता,  गायत्री मंत्र,  वृषाश्रिता नजी,  कौशिकी,  शारदा,  महाप्रकृति,  वार्त्ता,  गांदिनी,  शंभुकांता,  आद्या,  हैमवती नदी,  शिवसुंदरी,  भालचंद्र,  धर्मद्रवी,  वृषारणी नदी,  अपराजिता,  वेदमन्त्र,  मन्त्र,  वेगगा,  जगन्मोहिनी,  विश्वकाया,  शैवलिनी,  इंद्राणी,  वृषाश्रिता,  महाविल,  मधुमती नदी,  मन्दाकिनी,  नंदिनी,  भालचन्द्र,  त्रिमार्गी नदी,  त्रिपथगा नदी,  तटनी,  वृषारणी,  छंद,  वामदेवी,  स्वर्वापी नदी,  स्रोतस्विनी,  नैऋती,  त्रिधारा नदी,  सलिला,  कालदमनी,  गङ्गा,  अद्रि-तनया,  अपगा,  नन्दा,  शुंभघातिनी,  गौतमी,  अर्णा,  महाभद्रा नदी,  सुरनदी,  जाह्नवी,  मालिनी नदी,  भद्रसोमा,  रेवती,  स्वर्वापी,  पुरन्दरा नदी,  शुंभमर्दिनी,  शुभंकरी,  शुम्भमर्दिनी,  आपगा,  पर्वतात्मजा,  जगदंबिका,  जगदंबा,  नदिया,  महिषासुरमर्दिनी,  चामुण्डा,  तरनि,  बहुभुजा,  वैदिक छंद,  भूतनायिका,  शम्भुकान्ता,  पुष्यगर्भा,  अद्रिजा,  त्रिमार्ग गामिनि नदी,  योगेश्वरी,  सावित्री,  गान्दिनी,  ऋक्,  देवी,  अद्रितनया,  गांदिनी नदी,  महोग्रा,  अमरपगा,  विरेफ,  मंजुनाशी,  शुद्धि,  भागीरथी नदी,  शांभवी,  तटिनी,  हयग्रीवा,  मंदाकिनी,  अध्वगा,  स्रोतवती,  योगीश्वरी,  विजया,  वैष्णवी नदी,  ब्राह्मी,  धात्री,  सुरसरि,  गान्दिनी नदी,  अद्रि-तनया नदी,  तरंगिणी,  वैदिक छन्द,  गंगा,  भागीरथी,  धात्री नदी,  दरिया,  शाम्भवी,  उग्रशेखरा नदी,  सौम्या,  मालिनी,  त्रिभुवनसुन्दरी,  शिवा,  शुभ्रा,  सरि,  त्रिनयना,  नंदिनी नदी,  गङ्गा नदी,  मंदाकिनी नदी,  इन्द्राणी,  वेदमंत्र,  वृषध्वजा,  स्वर्णधुनी,  अग्रु,  जगन्माता,  पुष्यगर्भा नदी,  अष्टभुजा,  पर्वतजा,  नंदा,  अमृतमालिनी,  ईशानी,  उग्रशेखरा,  सुरधुनी नदी,  मन्दाकिनी नदी,  महाभद्रा,  ऋचा,  वरालिका,  मातेश्वरी,  मंगलचण्डिका,  त्रिमार्गगा नदी,  शुभ्रा नदी,  गायत्री नदी,  कल्याणी,  अमरपगा नदी,  महायोगेश्वरी,  त्रिमार्गा नदी,  आदि शक्ति,  हैमवती,  त्रिभुवनसुंदरी,  सर्वमंगला,  शिवानी,  आर्या,  पुरन्दरा,  अपरा,  शिफा,  कल्लोलिनी,  उग्रा,  पुरंदरा नदी,  त्वाष्टी,  निर्झरणी,  तरंगालि,  पुरंदरा,  चामुंडा,  त्रिमार्ग गामिनि,  इड़ा,  अद्रितनया नदी,  जाह्नवी नदी,  देवकुल्या,  मधुमती,  त्रिमार्गी,  त्रिमार्गा,  वरवर्णिनी,  भद्रसोमा नदी,  पुलिनवति,  त्रिदशेश्वरी,  निम्नगा,  परमेश्वरी,  योगमाता,  देवकुल्या नदी,  छन्द,  रिचा,  सुरधुनी,  आदिशक्ति,  आपया,  माया,  महामाया,  ईशा,  शाक्री,  महाविल नदी,  वैष्णवी,  अद्रिजा नदी,  नन्दिनी नदी,  स्वर्णधुनी नदी,