चिन्तामणि Meaning in English

चिन्तामणि Meaning in Hindi

  1. 1. एक कल्पित रत्न
Usage

1. चिंतामणि के बारे में प्रसिद्ध है कि इससे सभी इच्छाओं की पूर्ति हो सकती है ।

Synonyms
Hypernyms
  1. 2. वह सबसे बड़ी परम और नित्य चेतन सत्ता जो जगत का मूल कारण और सत्, चित्त, आनन्दस्वरूप मानी गयी है
Usage

1. ब्रह्म एक है ।

Synonyms
Hypernyms
Hyponyms
  1. 3. धर्मग्रंथों द्वारा मान्य वह सर्वोच्च सत्ता जिसे सृष्टि का स्वामी माना जाता है
Usage

1. ईश्वर सर्वव्यापी है । / ईश्वर हम सबके रक्षक हैं ।

Synonyms
Hypernyms
Hyponyms
 
चिन्तामणि meaning in Hindi, Meaning of चिन्तामणि in English Hindi Dictionary. Pioneer by www.aamboli.com, helpful tool of English Hindi Dictionary.
 

Related Similar & Broader Words of चिन्तामणि

विश्वभुज,  सद्गुरु,  देवेश,  कामद,  कल्पित वस्तु,  भवधरण,  वैश्वानर,  त्रिलोकेश,  जीवेश,  काल्पनिक वस्तु,  दिव्य शक्ति,  त्रिलोकपति,  इसर,  चिन्मय,  प्रभु,  वासु,  ईश्वर,  परमेश्वर,  ईसर,  परमानंद,  दीनानाथ,  दीनबन्धु,  आदिकर्त्ता,  जवाहर,  म,  तोयात्मा,  सर्वोच्च सत्ता,  कर्त्ता,  ईश,  ईस,  अर्य्य,  अन्तर्यामी,  दीनबंधु,  भवेश,  जगत्सेतु,  जगन्नियन्ता,  दहराकाश,  रत्न,  कर्ता,  कामदमणि,  भगवान,  भगवत्,  विश्वंभर,  तमोनुद,  नगीना,  बोध,  ज्ञान,  अधिपुरुष,  अवगति,  विश्वात्मा,  विश्वभर्ता,  अन्तर्ज्योति,  क़यास,  विश्वधाम,  परम सत्ता,  नक्षत्र-चिन्तामणि,  दीन-बन्धु,  संज्ञान,  अशब्द,  परमपिता,  अखिलेश्वर,  उद्भावना,  परमानन्द,  जगद्योनि,  ईशान,  विश्वपति,  जगन्नाथ,  जोग,  कर्ता-धर्ता,  किबला-आलम,  चिंतामणि,  क़िबला-आलम,  सच्चिदानंद,  अव्यय,  इलाही,  अंतर्यामी,  अमृतगर्भ,  करतार,  संहिता,  जगदानंद,  ब्रह्म,  संज्ञा,  नित्यमुक्त,  ख़ालिक़,  आदिकर्ता,  विभु,  जौहर,  प्रधानात्मा,  अखिलेश,  सर्वोच्च शक्ति,  रतन,  सांई,  बोधि,  क़िबलाआलम,  त्रिपाद,  विश्वभावन,  जवाहिर,  विश्वपा,  ऊपरवाला,  दई,  परमात्मा,  जगन्नियंता,  कर्ताधर्ता,  चिदाकाश,  रेजा,  कयास,  ठाकुरजी,  अर्य,  भान,  चिदानंद,  अब्धिसार,  योग,  करुण,  अवभास,  अर्णव,  अशरीर,  जगदाधार,  त्रिलोकीनाथ,  चिदानन्द,  विश्वभाव,  सतगुरु,  भगवान्,  जाने-जाँ,  सच्चिदानन्द,  विश्वम्भर,  अखिलात्मा,  नक्षत्र-चिंतामणि,  योजन,  त्रयीमय,  जगदीश्वर,  आदिकारण,  विधाता,  खालिक,  जगदीश,  धरुण,  कर्ता धर्ता,  मंगलालय,  इश्व,  त्रिलोकी,  ठाकुर,  नाथ,  विश्वनाथ,  कर्तार,  नग,  किबलाआलम,  विश्वभव,  कल्पना,  अवबोध,  अंतर्ज्योति,  अविनश्वर,  साँई,  वरेश,  जाने-जहाँ,  जगन्निवास,  अवगम,