चिरंजीव (ciraMjIva) Meaning in English

Noun

  1. 1. son

चिरंजीव (ciraMjIva) Meaning in Hindi

  1. 1. जो बहुत दिनों तक जीता रहे
Usage

1. कुछ चिरंजीव ऋषि हिमालय की गुफाओं में रहते हैं ।

Synonyms
  1. 2. जो कभी मरे नहीं या जिसने मृत्यु को जीत लिया हो
Usage

1. पौराणिक कहानियों के अनुसार अमृत पीने से जीव अमर हो जाता है ।

Synonyms
  1. 1. वह जिसे पुराणों में सदा जीवित रहनेवाला माना गया है
Usage

1. अश्वत्थामा, कृपाचार्य, परशुराम, बलि, विभीषण, व्यास और हनुमान - ये सात चिरंजीव हैं ।

Hypernyms
  1. 2. एक काला पक्षी जो कर्कश स्वर में बोलता है
Usage

1. कौआ पेड़ की डाल पर बैठकर काँव-काँव कर रहा है ।

Synonyms
Hypernyms
Hyponyms
Antonyms
  1. 3. नर संतान
Usage

1. कृष्ण वसुदेव के पुत्र थे । / पुत्र कुपुत्र हो सकता है लेकिन माता कुमाता नहीं हो सकती ।

Synonyms
Hypernyms
Hyponyms
Antonyms
  1. 4. हिन्दुओं के एक प्रमुख देवता जो सृष्टि का पालन करने वाले माने जाते हैं
Usage

1. राम और कृष्ण विष्णु के ही अवतार हैं ।

Synonyms
Hypernyms
Hyponyms
 
चिरंजीव meaning in Hindi, Meaning of चिरंजीव in English Hindi Dictionary. Pioneer by www.aamboli.com, helpful tool of English Hindi Dictionary.
 

Related Similar & Broader Words of चिरंजीव

कमलेश्वर,  खगासन,  वृक,  महेन्द्र,  अब्धिशयन,  दीर्घायु,  अम्बरीष,  असुरारि,  नारायण,  विश्वनाभ,  सुरेश,  तनूद्भव,  पत्रवाह,  रसनारव,  द्युनिवास,  द्विज,  रमाधव,  महालोभ,  फर्जंद,  महालोल,  अन्तरिक्षसत्,  अन्नाद,  द्विक,  शारंगपाणि,  अंतरिक्षसत्,  अलि,  विश्वगर्भ,  रमाकांत,  आत्मनीन,  शुद्धोदनि,  प्रसृति,  अमृतासु,  पुराणीय जीव,  वृंदारक,  अमरण,  आकाशफल,  लाल,  नभसंगम,  स्वर्णबिंदु,  फरज़न्द,  व्यंकटेश्वर,  विश्वबाहु,  वंश,  पद्मनाभ,  फर्ज़िन्द,  पंखी,  फर्जिंद,  फणितल्पग,  अमानुष,  आत्मसंभव,  फरज़ंद,  लक्ष्मीपति,  अमर्त,  फरजन्द,  देव,  सत्य-नारायण,  जनार्दन,  कमलेश,  श्रीकान्त,  कैटभारि,  शिखंडी,  चिरजीवी,  विहंग,  अदित,  पत्रवाज,  अंगज,  तनुरुह,  कुंवर,  औलाद,  पक्षी,  उड़ु,  सावित्र,  लक्ष्मीकान्त,  पत्ररथ,  शारंगपानि,  दैत्यारि,  गरुड़गामी,  देवेश्वर,  महेंद्र,  भूतकृत,  पतंगम,  फरजिंद,  बेटा,  कमलनाभि,  पद्म-नाभ,  नन्दन,  पौराणिक जीव,  चिड़िया,  तनौज,  कमलापति,  दनुजारि,  विश्वकाय,  सारंगपाणि,  पाँखी,  हृषिकेश,  अब्धिशय,  हिरण्यगर्भ,  अमृतबन्धु,  तनुभव,  द्विपक्ष,  दैवत,  खग,  सन्तान,  आत्मघोष,  फरज़िन्द,  लड़का-बाला,  बच्चा,  श्रीश,  फर्जिन्द,  दम,  वर्द्धमान,  जिह्वारद,  पंछी,  पतत्रि,  विश्वम्भर,  सर्व,  सुप्रसाद,  आयुष्मान,  रमारमण,  वसु,  मोड़ा,  संतान,  पांखी,  जगदीश,  त्रिदिवौकस,  धूलिजङ्घ,  फर्ज़िंद,  वैकुंठनाथ,  सर्वेश्वर,  अमृताशन,  नुत्फा,  अमृतबंधु,  चक्रेश्वर,  खरारि,  आत्मसम्भव,  धंवी,  शक्रज,  दायदवत्,  आल,  माधव,  खरारी,  पूत,  भट्टारक,  शतानन्द,  रमानाथ,  द्विजाति,  चक्रपाणि,  तनोज,  अनुबन्ध,  फरज़िंद,  बैकुंठनाथ,  विवुध,  तनय,  अनलमुख,  अमृततप,  त्रिविक्रम,  परिन्दा,  दिवाचर,  दिवौका,  प्रातर्भोक्ता,  अमरप्रभु,  फर्ज़ंद,  इंदिरा रमण,  पतय,  त्रिलोकेश,  पतम,  सुत,  परिंदा,  तनू,  रमेश,  श्रीकांत,  लघुपाती,  वासु,  फर्ज़न्द,  फरजिन्द,  महानारायण,  त्रिदश,  तनूरुह,  श्रीरमण,  उड़ुचर,  आत्मसमुद्भव,  चिरंजीवी,  हरि,  कौआ,  शिखण्डी,  विष्णु,  श्रीनाथ,  आदितेय,  रमानिवास,  द्युनिवासी,  जैवातृक,  बाल-बच्चा,  चक्रधर,  तनुज,  धाम,  विश्वधर,  दामोदर,  पौराणीय जीव,  पतग,  वर्धमान,  कुँवर,  सहस्रचित्त,  डाकोर,  कुमार,  विश्वंभर,  देवता,  चिरंजी,  हृषीकेश,  काग,  काक,  नंदन,  तपस,  महागर्भ,  केशव,  जाया,  सुचिरायु,  शक्रजात,  कालातीत,  जनेश्वर,  अरिष्ट,  तांती,  सुर,  आत्मजात,  जगद्योनि,  श्रीनिवास,  वारुणीश,  जहु,  बाणारि,  अक्षर,  आत्मोद्भव,  शाख,  सहस्रजित्,  देवक,  आत्मज,  आत्म-सम्भव,  पाखी,  आकाश-फल,  धन्वी,  अतिजीवित,  नभश्चर,  नीड़ज,  अनुबंध,  विधु,  विश्वप्स,  सूत,  बालक,  फरजंद,  विहग,  रमापति,  करारा,  नीड़क,  मृत्यु विजेता,  इब्न,  मृत्युंजयी,  पतंगी,  कौवा,  पखेरू,  कुण्डली,  पुत्र,  विभु,  गरुड़ध्वज,  सहस्रचरण,  संतति,  पतन्,  धातृ,  गीर्वाण,  अतिजीवी,  किशोर,  रत्ननाभ,  अमर,  आत्मप्रभव,  त्रिदिवेश,  ताँती,  अपत्य,  शेषशायी,  जगन्,  लड़का,  आयुष्मान्,  वटुक,  मधुसूदन,  कुंडली,  फर्जंन्द,  नगरीवक,  अंबरौका,  महाभाग,  धूलिजंघ,  वसुधाधर,  कमलनाभ,  दिवाटन,  सत्यनारायण,  बाल,  अयाल,  अनीश,  त्रिलोकीनाथ,  वीरबाहु,  अमर्त्य,  श्रीपति,  महाक्ष,  लक्ष्मीकांत,  रमाकान्त,  मधुप,  दीर्घजीवी,  विश्वप्रबोध,  आत्मभू,  सन्तति,  कागा,  वटु,  कालजीत,  तनूज,  शतानंद,  जगदीश्वर,  ऋभु,  आत्म-संभव,  जात,  देवाधिदेव,  कालजयी,  विहंगम,  कमलनयन,  करार,  आकाशचारी,  स्वर्णबिन्दु,  पत्रती,  पुंडरीकाक्ष,  हिरण्यकेश,  चिरायु,  पर्णवी,  आदित्य,  अंबरीष,  शाख़,  गजाधर,  अच्युत,