तुंगीश Meaning in English

तुंगीश Meaning in Hindi

  1. 1. हिन्दू धर्मग्रंथों में वर्णित एक देवता
Usage

1. चंद्रदेव को औषधियों का स्वामी कहा गया है ।

Synonyms
Hypernyms
  1. 2. हमारे सौर जगत का वह सबसे बड़ा और ज्वलंत तारा जिससे सब ग्रहों को गर्मी और प्रकाश मिलता है
Usage

1. सूर्य सौर ऊर्जा का एक बहुत बड़ा स्रोत है। / पूर्व से सूर्य को आते देख तिमिर दुम दबाकर भागने लगा ।

Synonyms
Hypernyms
Hyponyms
  1. 3. यदुवंशी वसुदेव के पुत्र जो विष्णु के मुख्य अवतारों में से एक हैं
Usage

1. सूरदास कृष्ण के परम भक्त थे ।

Synonyms
Hypernyms
Hyponyms
  1. 4. हिन्दू धर्मग्रंथों में वर्णित एक देवता
Usage

1. वेदों में भी सूर्यदेव की पूजा का विधान है ।

Synonyms
Hypernyms
 
तुंगीश meaning in Hindi, Meaning of तुंगीश in English Hindi Dictionary. Pioneer by www.aamboli.com, helpful tool of English Hindi Dictionary.
 

Related Similar & Broader Words of तुंगीश

भूताक्ष,  अहस्पति,  सोमराज,  पीयूषरुचि,  नन्दलाल,  पुष्कर,  आफ़ताब,  ध्वांतशत्रु,  श्रीसहोदर,  दिवसमणि,  दिवसेश,  चिन्मय,  द्युनिवास,  सूर्यदेव,  परमेश्वर,  मुरारी,  दीप्तांशु,  मंजुकेशी,  हेमकर,  दीनबन्धु,  कर्त्ता,  मुकुन्द,  अर्य्य,  पीयूषवर्ष,  चक्रबांधव,  भवेश,  द्वारकानाथ,  हिमांशु,  भगवान,  चिन्तामणि,  अब्ज,  वृषदर्भ,  मुकुंद,  पद्मबन्धु,  नन्दकुँवर,  अधिपुरुष,  कलानाथ,  अमानुष,  विश्वधाम,  देव,  द्वारिकाधीश,  अरिकेशी,  तिमिरहर,  परमपिता,  तमोहपह,  तारा,  परमानन्द,  गभस्तिपाणि,  गभस्तिहस्त,  शिखंडी,  विश्वपति,  दिवाकर,  चन्द्र,  क़िबला-आलम,  हिमवान्,  वंशीधर,  इलाही,  अविनीश,  पद्मिनीवल्लभ,  गिरिधारी,  ध्वान्तशत्रु,  द्युम्न,  सूर्य देवता,  अदित,  जगदानंद,  अरविंदबंधु,  नक्षत्रनाथ,  नित्यमुक्त,  ख़ालिक़,  केश,  दैत्यारि,  गोकर,  द्युपति,  भूतकृत,  अखिलेश,  श्रीकृष्ण,  वेध,  वेद,  ऊपरवाला,  दई,  चिदाकाश,  वासुदेव,  आदिदेव,  खगपति,  द्वारकाधीश,  यादवेंद्र,  कान्हा,  अग,  द्वारकेश,  राधारमण,  पीयूषमहस,  श्याम,  सोमेश,  अह,  त्रयीमय,  खालिक,  शशाङ्क,  नंदनंदन,  अमृताशन,  अमृतबंधु,  विश्वप्रकाशक,  कर्ता धर्ता,  त्रिलोकी,  ब्रजबिहारी,  कृष्णचंद्र,  वरेय,  अब्जबाँधव,  किबलाआलम,  वरेश,  पौराणिक पुरुष,  चक्रबंधु,  सद्गुरु,  देवेश,  दिवस्पति,  अमृततप,  दिवावसु,  अरुणसारथी,  मनमोहन,  वेदाध्यक्ष,  वैश्वानर,  कंसारि,  त्रिलोकेश,  वृषाकपि,  प्रजाध्यक्ष,  दीप्तकिरण,  विट्ठलदेव,  त्रयीतन,  नटराज,  सूर्य,  हरि,  दीनानाथ,  सिंधुनंदन,  आदिकर्त्ता,  म,  ईश,  शशलांछन,  नभश्चक्षु,  द्युनिवासी,  ईस,  दीनबंधु,  कुरंगलांछन,  दिनअर,  दिनेश,  दहराकाश,  नक्षत्रेश,  पूतनारि,  वृष्णि,  देवता,  अभिरूप,  अवबोधक,  गोविन्द,  तपस,  सोमेश्वर,  केशव,  चंद्रमा,  यवनारि,  द्यु-पति,  तपु,  सुचिरायु,  नन्दकिशोर,  वेदात्मा,  अहिजित,  शकटारि,  ईशान,  नंदकुँवर,  जगन्नाथ,  योगेश,  शशांक,  शशभृत,  विधु,  विश्वप्स,  अधिरथी,  यमसू,  दुड़ियंद,  चंद्र,  प्रजादार,  गोविन्दा,  पूतनासूदन,  नंदकिशोर,  नवलकिशोर,  नन्दनन्दन,  विभु,  शंभुभूषण,  सांई,  ताराधीस,  गीर्वाण,  मयंक,  ताराधीश,  क़िबलाआलम,  अनन्तजित्,  ताराधिप,  अमर,  त्रिदिवेश,  जगन्नियंता,  गोविंदा,  मधुसूदन,  कुरंग-लांछन,  अशरीर,  इन्दु,  जगदाधार,  मार्तंड,  गिरधारी,  वृषनाशन,  ज्वालमाली,  द्वारिकानाथ,  अंबु तस्कर,  अखिलात्मा,  पद्मिनीकांत,  शतानंद,  पचत,  विपिन विहारी,  जगदीश्वर,  अर्य्यमा,  दिव्यांशु,  विधाता,  योगेश्वर,  निशारत्न,  कमलनयन,  आकाशचारी,  कर्तार,  अंशुमान,  बनवारी,  अविनश्वर,  साँई,  मोहन,  तिमिरारि,  तारेश,  कामद,  मरीची,  तारानाथ,  नभोमणि,  अंशुमाली,  कालियमर्दन,  असुरारि,  जीवेश,  योगीश,  हेममाली,  गभस्ति,  ध्वान्ताराति,  स्वप्ननंशन,  पद्मिनीकान्त,  तिग्मगर,  इसर,  वेदवादन,  तारापीड़,  कुवम,  सूरज,  ईसर,  अफताब,  दिवसकृत,  तोयात्मा,  अरुन,  अरुण,  अन्तर्यामी,  सिन्धुपुत्र,  जगन्नियन्ता,  अब्धिज,  वृंदारक,  कर्ता,  नंदलाल,  नन्दकुमार,  तरणि,  तिमिररिपु,  कालेश,  अवि,  विश्वात्मा,  विश्वभर्ता,  अन्तर्ज्योति,  वनमाली,  दीन-बन्धु,  अनन्त-जित्,  पर्परीक,  अखिलेश्वर,  सूर्य देव,  मार्तण्ड,  भग्नात्मा,  अवतार,  घनश्याम,  कर्ता-धर्ता,  अव्यय,  विहंग,  अंतर्यामी,  पद्मबंधु,  जगत्साक्षी,  गिरधर,  आदिकर्ता,  सावित्र,  कलाधर,  शशलाञ्छन,  तुंगीपति,  तीक्ष्णांशु,  शशमौलि,  गरुड़गामी,  प्रधानात्मा,  सहस्रकिरण,  तीक्ष्णरश्मि,  तारकेश,  कुंजबिहारी,  विश्वभावन,  दनुजारि,  कर्ताधर्ता,  द्यु-मणि,  दिवसेश्वर,  चित्रभानु,  अरणी,  अमृतबन्धु,  किशन,  योग,  कामपाल,  अरणि,  निर्मुट,  दैवत,  गोपाल,  अयुग्मवाह,  अर्णव,  पद्मिनीश,  भानु,  त्रिनेत्रचूड़ामणि,  विश्वभाव,  योगीश्वर,  भगवान्,  इंदु,  विश्वम्भर,  वृष्णिक-गर्भ,  योजन,  दिवामणि,  त्रिदिवौकस,  जगदीश,  चन्द्रदेव,  अंबुतस्कर,  धरुण,  शवकृत,  मंगलालय,  खरारि,  इश्व,  मिहिर,  रासबिहारी,  नाथ,  माधव,  खरारी,  नरनारायण,  भट्टारक,  शतानन्द,  अंतर्ज्योति,  चंद्रदेव,  जगन्निवास,  विश्वभुज,  अनड्वान्,  विवुध,  अनलमुख,  कृष्ण,  मुरली मोहन,  दिवौका,  दनमणि,  भवधरण,  अब्जहस्त,  त्रिलोकपति,  पद्मगर्भ,  शम्भुभूषण,  प्रभु,  वासु,  ईश्वर,  चक्रबान्धव,  त्रिदश,  परमानंद,  परिजन्मा,  दिनकर,  अभिरूपक,  शिखण्डी,  आदितेय,  अर्जमा,  मुरलीधर,  वेदोदय,  भास्कर,  गिरिधर,  जगत्सेतु,  दामोदर,  सहस्रगु,  बलबीर,  भगवत्,  विश्वंभर,  तमोनुद,  हृषीकेश,  अर्क,  वेदबाहु,  शशलक्षण,  दिनमणि,  अनंतजित्,  अनंत-जित्,  सिन्धुनन्दन,  दिवसनाथ,  सुर,  गुपाल,  कन्हैया,  जगद्योनि,  नंदकुमार,  जोग,  देवक,  किबला-आलम,  चिंतामणि,  अफ़ताब,  नभश्चर,  करतार,  गोपीश,  वेधा,  विहग,  प्रभाकर,  कलानिधि,  चक्रबन्धु,  गोविंद,  पीतवास,  गोपेश,  शकटहा,  चन्द्रमा,  नभस्मय,  स्टार,  त्रिपाद,  विश्वपा,  यादवेन्द्र,  परमात्मा,  ठाकुरजी,  अर्य,  सिंधुपुत्र,  अंबरौका,  करुण,  गविष्ठ,  आफताब,  हृषु,  वंशीधारी,  शीघ्रग,  त्रिलोकीनाथ,  अरविन्दबन्धु,  सतगुरु,  सविता,  जाने-जाँ,  मधुप,  त्विषामीश,  मुरलीवाला,  आदिकारण,  ऋभु,  दिवसकर,  अर्यमा,  ठाकुर,  ध्वांताराति,  बकवैरी,  विश्वनाथ,  दिवसभर्ता,  रवि,  शशधर,  आदित्य,  जाने-जहाँ,  पुराणीय पुरुष,  अच्युत,