निशिनाथ Meaning in English

निशिनाथ Meaning in Hindi

  1. 1. सफेद रंग का एक सुगन्धित पदार्थ जो दारचीनी की जाति के पेड़ों से निकलता है
Usage

1. उसने आरती करने के लिए कपूर जलाया ।

Synonyms
Hypernyms
Hyponyms
  1. 2. पृथ्वी के चारों ओर चक्कर लगाने वाला एक उपग्रह
Usage

1. चंद्रमा सूर्य के प्रकाश से प्रकाशित होता है ।

Synonyms
Hypernyms
Hyponyms
Antonyms
 
निशिनाथ meaning in Hindi, Meaning of निशिनाथ in English Hindi Dictionary. Pioneer by www.aamboli.com, helpful tool of English Hindi Dictionary.
 

Related Similar & Broader Words of निशिनाथ

निशानाथ,  चंद्रप्रभा,  तुषारगौर,  तुहिनदीधित,  उपग्रह,  चन्द्रप्रभा,  श्वेतांशु,  पीयूषरुचि,  तुषारकर,  क़ाफूर,  मृगांक,  द्विजपति,  शीतद्युति,  रजनीश,  चन्द्रभस्म,  पतय,  पतम,  राकेश,  श्रीसहोदर,  शम्भुभूषण,  द्विजेश,  शिवशेखर,  द्विज,  शुचि,  सिंधुनंदन,  शीतरश्मि,  अमीनिधि,  जैवातृक,  पीयूषवर्ष,  शीतमरीचि,  अब्धिज,  हिमांशु,  श्वेतवाहन,  शिशिरगु,  शीतदीधिति,  नक्षत्रेश,  वेरक,  चंदा,  श्वेतधामा,  अब्ज,  रजनीनाथ,  कलानाथ,  निशेश,  तुषारकिरण,  श्वेतद्युति,  शिशिरमयूख,  श्वेतार्चि,  चंद्रमा,  वनस्पति उत्पाद,  सोम,  शशि,  घनरस,  सिन्धुनन्दन,  काफूर,  तमोहपह,  मृगमित्र,  भग्नात्मा,  चन्द्र,  निशिपाल,  हिमवान्,  शशांक,  शशभृत,  विहंग,  नभश्चर,  निशिपति,  सोमसंज्ञ,  शीतांशु,  विधु,  विश्वप्स,  विहग,  मिहिका,  चंद्र,  कलानिधि,  तुहिनरश्मि,  कलाधर,  द्विजेंद्र,  सिन्धुजन्मा,  निशाधीश,  चांद,  यामीर,  अमलदीप्ति,  शंभुभूषण,  चन्द्रमा,  निशापति,  सुधाकर,  मयंक,  अमृतांशु,  वरालि,  निशिनायक,  तुहिनद्युति,  निशिकर,  सिंधुजन्मा,  घनसार,  अमल,  यामिनीपति,  शीतप्रभ,  पौध उत्पाद,  शिशिरकर,  प्रालेयांशु,  अमृतबन्धु,  शीतमयूख,  इन्दव,  पीयूषमहस,  छायांक,  शीतभानु,  हृषु,  अमृतवपु,  इन्दु,  सितदीधिति,  सुधांशु,  तुहिनकिरण,  इंदु,  तुहिनकर,  हिमकर,  श्वेतभानु,  तुहिनांशु,  चंद्रभस्म,  अमृतद्युति,  इंदव,  श्वेतमयूख,  पर्वधि,  निशारत्न,  अमृतकर,  सिंधुपु,  द्विजेन्द्र,  शशाङ्क,  ताराभ्र,  कपूर,  अमृतबंधु,  नभश्चमस,  रेणुसार,  शीताभ,  कर्पूर,  चाँद,  जलमसि,  शीतकर,  रसपति,  अमीकर,  द्विजाति,  निशामणि,  शशधर,  तुहिनाश्रु,  अमृतरश्मि,  
 

Related Opposite Words (Antonyms) of निशिनाथ

भूताक्ष,  अनड्वान्,  दिवस्पति,  मरीची,  दिवावसु,  पुष्कर,  नभोमणि,  अंशुमाली,  अरुणसारथी,  आफ़ताब,  गभस्ति,  ध्वांतशत्रु,  ध्वान्ताराति,  अब्जहस्त,  दीप्तकिरण,  स्वप्ननंशन,  पद्मिनीकान्त,  त्रयीतन,  तिग्मगर,  पद्मगर्भ,  दिवसेश,  सूरज,  चक्रबान्धव,  अफताब,  दीप्तांशु,  दिनकर,  सूर्य,  दिवसकृत,  अरुन,  नभश्चक्षु,  अरुण,  भास्कर,  चक्रबांधव,  दिनअर,  दिनेश,  सहस्रगु,  तिमिररिपु,  कालेश,  अवि,  अर्क,  पद्मबन्धु,  अवबोधक,  तपस,  तपु,  तिमिरहर,  पर्परीक,  दिवसनाथ,  तमोहपह,  मार्तण्ड,  वेदात्मा,  गभस्तिपाणि,  गभस्तिहस्त,  दिवाकर,  अफ़ताब,  विहंग,  नभश्चर,  अविनीश,  पद्मिनीवल्लभ,  ध्वान्तशत्रु,  विश्वप्स,  द्युम्न,  यमसू,  पद्मबंधु,  जगत्साक्षी,  अदित,  विहग,  प्रभाकर,  चक्रबन्धु,  तुंगीश,  केश,  तीक्ष्णांशु,  गोकर,  द्युपति,  सहस्रकिरण,  तीक्ष्णरश्मि,  वेद,  नभस्मय,  खगपति,  अग,  दिवसेश्वर,  चित्रभानु,  अरणी,  गविष्ठ,  अरणि,  आफताब,  निर्मुट,  अयुग्मवाह,  पद्मिनीश,  हृषु,  भानु,  मार्तंड,  शीघ्रग,  सविता,  अंबु तस्कर,  पद्मिनीकांत,  त्रयीमय,  दिव्यांशु,  दिवामणि,  दिवसकर,  अंबुतस्कर,  धरुण,  विश्वप्रकाशक,  मिहिर,  ध्वांताराति,  अंशुमान,  दिवसभर्ता,  वरेय,  अब्जबाँधव,  रवि,  आदित्य,  तिमिरारि,  चक्रबंधु,