पलंकषा Meaning in English

पलंकषा Meaning in Hindi

  1. 2. एक प्रकार का पौधा
Usage

1. गोरखमुंडी में छोटे,गोल और गुलाबी रंग के फूल आते हैं ।

Synonyms
Hypernyms
  1. 4. एक काँटेदार पेड़ से प्राप्त गोंद जो सुगंध के लिए जलाया जाता है
Usage

1. उसने दुकान से गुग्गुल और लोहबान खरीदा ।

Synonyms
Hypernyms
  1. 5. एक लाल पदार्थ जिसे कुछ विशिष्ट वृक्षों की टहनियों पर लाल रंग के कुछ छोटे कीड़े बनाते हैं
Usage

1. दुर्योधन ने पांडवों को जला डालने के लिए लाख का घर बनवाया था ।

Synonyms
Hypernyms
Hyponyms
  1. 7. एक पेड़ जिसमें लाल पुष्प लगते हैं
Usage

1. इस बाग में पलाश की अधिकता है ।

Synonyms
Hypernyms
 
पलंकषा meaning in Hindi, Meaning of पलंकषा in English Hindi Dictionary. Pioneer by www.aamboli.com, helpful tool of English Hindi Dictionary.
 

Related Similar & Broader Words of पलंकषा

गूगल,  पल्लवी,  लासा,  त्रिपर्ण,  गुग्गुल,  गंधमादिनी,  गूगुल,  वेष्टन,  रंगजननी,  पेड़,  तरु,  गोरखमुण्डी,  केसू,  ढाक,  शिखरी,  मुचक,  रक्ता,  शिखी,  साखी,  गन्धमादिनी,  उंडी,  प्रतिबन्धक,  अलम्बुषा,  जंतुका,  अमरपुष्पक,  अस्वादुकंटक,  अलक्त,  वस्तु,  निर्यास,  पूतद्रु,  दरख्त,  रङ्गमाता,  साखि,  गोंद,  गंधमादनी,  पुष्प,  विटप,  रंगमातृका,  रङ्गमातृका,  कृमिजा,  लस,  वंश,  गुल,  पित्तारि,  पलास,  जर्ण,  मणीवक,  पाठीन,  अर्क,  लाह,  पलाश,  उण्डी,  श्रीवास,  अमन्द,  पूत-द्रु,  अलंबुषा,  ह्रीकु,  शिगूफा,  तपोधना,  चीज,  पादप,  स्कंधी,  डाख,  टेसू,  नख़्ल,  गोखरू,  रूख,  किंशुक वृक्ष,  अघ्रिप,  अलक्तक,  लाख,  माद्दा,  पीलु,  अश्व-दंष्ट्रा,  पदार्थ,  वक्रपुष्प,  श्रीवासक,  भवाभीष्ट,  प्रतिबंधक,  अमरपुष्प,  लाक्षा,  लाक्ष,  द्रव्य,  नक्तञ्चर,  पुष्पक,  रुक्ष,  मुकल,  सारंग,  रूखरा,  इक्षुगन्धा,  नकतंचर,  पूतदारु,  इक्षुगंधा,  पलंकष,  वातपोथक,  प्रसूनक,  तरुवर,  महाश्रय,  दरख़्त,  रूँख,  देवेष्ट,  पौधा,  जन्तुका,  पलाश पुष्प,  रक्तपुष्पक,  पुर,  महावरोह,  यूप्य,  गन्धमादनी,  त्रिपर्णा,  अश्वद्रंष्ट्रा,  वनशृंगार,  प्रसूत,  कुसुम,  बहुपत्र,  त्रिवृंत,  पलास पुष्प,  अग,  पलाश वृक्ष,  आसना,  मेघद्वार,  फूल,  अरुणा,  प्रसून,  व्रणजिता,  ब्रह्मद्रुम,  द्रुम,  नख्ल,  स्कन्धी,  रंगमाता,  चीज़,  भूमिजात,  ब्रह्मवृक्ष,  पड़ाशी,  लाक्षातरु,  किंशुक,  अव्यथा,  अनोकह,  अरक्त,  अमंद,  वंशपीत,  सुमन,  ढाँक,  पलंकषी,  धाक,  विटपी,  रूखड़ा,  बीरो,  वेष्टक,  नाहर,  गोरखमुंडी,  कनक,  ब्रह्मपादप,  वृक्ष,  पुलाकी,  शिगूफ़ा,  इक्षुर,  वेष्ट,  पूत,  पौदा,  त्रिवृन्त,  गम,  टेसुआ,  दैत्यमेदज,  राजादन,  वातपोथ,