रत्नगर्भ Meaning in English

रत्नगर्भ Meaning in Hindi

  1. 1. यक्षों के राजा जो इंद्र की निधियों के भंडारी माने जाते हैं
Usage

1. कुबेर संबंध में रावण के भाई थे ।

Synonyms
Hypernyms
  1. 2. खारे पानी की वह विशाल राशि जो चारों ओर से पृथ्वी के स्थल भाग से घिरी हुई हो
Usage

1. समुद्र रत्नों की खान है ।

Synonyms
Hypernyms
Hyponyms
 
रत्नगर्भ meaning in Hindi, Meaning of रत्नगर्भ in English Hindi Dictionary. Pioneer by www.aamboli.com, helpful tool of English Hindi Dictionary.
 

Related Similar & Broader Words of रत्नगर्भ

रत्नाकर,  श्रीमान्,  वरुणालय,  वरुणोद,  विवुध,  शुद्धोद,  धननाथ,  दिवेश,  अनलमुख,  अमृततप,  पाथनाथ,  दिवौका,  नैसर्गिक वस्तु,  अंबुधि,  दिक्स्वामी,  असुरारि,  यादःपति,  अलकेश्वर,  एककुंडल,  पयोनिधि,  दिगीश्वर,  महासत्व,  द्युनिवास,  नदीपति,  त्रिदश,  कुवेर,  सलिलपति,  लोकाधिपति,  लक्ष्मी-तात,  लोकपाल,  सिंधु,  सागर,  नदीन,  मकरावास,  आदितेय,  गुह्यकेश्वर,  द्युनिवासी,  अमीनिधि,  वसुप्रद,  तोयराज,  पाथोनिधि,  प्राकृतिक वस्तु,  नदीश,  किन्नर राज,  वृंदारक,  जलपति,  पाथोधि,  पाथि,  मनुष्यधर्मा,  नदराज,  यादईश,  धनद,  देवता,  जलधि,  वरुणवास,  वित्तेश,  तोयधि,  पाथनिधि,  अमानुष,  दिगदंति,  देव,  सुचिरायु,  मकरध्वज,  निधिनाथ,  नदीकान्त,  ऐलविल,  मकरांक,  एकपिंगल,  अवधिमान,  सुर,  अर्थद,  दिग्राज,  पयोधि,  देवक,  जलीय-धरातल,  अपांनाथ,  मगरधर,  तोयनिधि,  नभश्चर,  समन्दर,  दिग्वारण,  ईश्वरसख,  तोयराशि,  विश्वप्स,  अधिरथी,  समुन्दर,  अदित,  पयोधर,  तीवर,  समुंदर,  नदीभल्लातक,  पर्वेश,  श्वेतोदर,  दैत्यारि,  तरन्त,  दिक्पति,  भूतकृत,  अर्थपति,  अविष,  यक्षेंद्र,  जल,  गीर्वाण,  मकरालय,  सलिलराज,  दनुजारि,  समंदर,  झषनिकेत,  जलेश,  सिन्धु,  जलनिधि,  अपांनिधि,  अमर,  नृवाहन,  त्रिदिवेश,  तरंत,  जलराशि,  श्रीमत्,  अवारपार,  वारीन्द्र,  एकनयन,  तिमिकोश,  अमृतबन्धु,  अब्धि,  अबिंधन,  अंबरौका,  दैवत,  द्रुम,  अर्णव,  दिशापति,  तोयालय,  वारींद्र,  यक्षेश्वर,  वारीश,  अलकाधिपति,  अलकाधिप,  अपांपति,  उदधि,  यक्षराज,  रत्नेश,  मधुप,  नदीकांत,  जल-राशि,  निधिपाल,  सुदामा,  धनधारी,  रत्नकर,  दिशापाल,  मनुराज,  ऋभु,  समुद्र,  परांगव,  जल राशि,  जलेश्वर,  अम्बुधि,  त्रिदिवौकस,  वारिराशि,  निधिप,  अमृताशन,  अमृतबंधु,  निधिपति,  आकाशचारी,  वारिधि,  सुदाम,  दिगेश,  दिगिम,  वारिनिधि,  जलीय धरातल,  बहुधनेश्वर,  भट्टारक,  दिक्पाल,  अलकापति,  कुबेर,  आदित्य,  सुदामन,  अबिन्धन,