श्रीवासक Meaning in English

श्रीवासक Meaning in Hindi

  1. 1. चीड़ के वृक्ष से निकला हुआ तेल जो औषध आदि के काम में आता है
Usage

1. लकड़ी पर तारपीन लगाने से उसमें कीड़े नहीं लगते ।

Synonyms
Hypernyms
  1. 3. एक पेड़ की सुगंधित लकड़ी जिसे घिसकर शरीर पर लेप लगाते हैं
Usage

1. चंदन शरीर को शीतलता प्रदान करता है ।

Synonyms
Hypernyms
Hyponyms
  1. 4. एक काँटेदार पेड़ से प्राप्त गोंद जो सुगंध के लिए जलाया जाता है
Usage

1. उसने दुकान से गुग्गुल और लोहबान खरीदा ।

Synonyms
Hypernyms
  1. 7. पानी में होने वाले एक पौधे का पुष्प जो बहुत ही सुन्दर होता है
Usage

1. सरोवर में कई रंगों के कमल खिले हुए हैं । / कमल से सरोवर की शोभा बढ़ जाती है ।

Synonyms
Hypernyms
Hyponyms
  1. 8. जल में उत्पन्न होने वाला एक पौधा जो अपने सुन्दर फूलों के लिए प्रसिद्ध है
Usage

1. बच्चे खेल-खेल में सरोवर से कमल उखाड़ रहे हैं ।

Synonyms
Hypernyms
Hyponyms
 
श्रीवासक meaning in Hindi, Meaning of श्रीवासक in English Hindi Dictionary. Pioneer by www.aamboli.com, helpful tool of English Hindi Dictionary.
 

Related Similar & Broader Words of श्रीवासक

पुरइन,  लासा,  वृक,  कुन्द,  गुग्गुल,  कंज,  गूगुल,  पुष्कर,  वेष्टन,  सुरदारु,  पेड़,  तरु,  दारुसार,  शिखरी,  नलिन,  साखी,  प्रतिबन्धक,  अर्कबन्धु,  पंकेरुह,  अरविंद,  शिखिकुंद,  अंभोज,  निर्यास,  पाथोज,  साखि,  गोंद,  अंज,  सुरद्रु,  अर्कबंधु,  विटप,  लस,  इन्द्रदारु,  वंश,  शशिपुष्प,  अब्ज,  जर्ण,  मणीवक,  चन्दन,  देवदारु,  श्रीवास,  अमन्द,  शिगूफा,  कुंदरू,  सलिलज,  जलीय वनस्पति,  वनस्पति उत्पाद,  स्कंधी,  मालय,  पर्णसि,  बिरोजा,  वेष्टसार,  महागंध,  हाइड्रोफाइट,  श्रीवेष्टक,  कँवल,  पीलु,  पंकजन्मा,  कुंद,  दयार,  भवाभीष्ट,  नक्तञ्चर,  सरोज,  पुष्पक,  रुक्ष,  सारंग,  नकतंचर,  अमरदारु,  शिखिकुन्द,  जलेज,  श्रीवासा,  राजीव,  तरुवर,  दरख़्त,  पुर,  इंदीवर,  अमरतरु,  सुपुष्प,  सर्पप्रिय,  दारु,  प्रसूत,  कुसुम,  इंदंबर,  अग,  रवींद,  फूल,  लकड़ी,  प्रसून,  नख्ल,  इध्म,  स्कन्धी,  श्रीवाससार,  पूतिकाष्ठ,  अनोकह,  तेल,  रक्तशीषक,  अमंद,  वंशपीत,  इन्दम्बर,  सुमन,  पलंकषा,  श्रीगेह,  पलंकषी,  मलयज,  सित,  रूखड़ा,  बीरो,  महादारु,  जलेजात,  काठी,  वेष्ट,  दारूगंधा,  गम,  दैत्यमेदज,  इन्दीवर,  तारपीन का तेल,  पल्लवी,  गूगल,  गन्धबिरोजा,  शतपत्र,  गंधबिरोजा,  सरल,  अमरकाष्ठ,  शिखी,  याम्य,  पिंडपुष्प,  जलीय पौधा,  अम्भोज,  वारिरुह,  रविनाथ,  पंकेज,  तैल,  माचीक,  पीतुदारु,  आस्यपत्र,  पूतद्रु,  दरख्त,  अंबुज,  शक्रनेमी,  पुष्प,  संदल,  नीरज,  प्रफुला,  गुल,  अर्क,  पूत-द्रु,  काठ,  पादप,  गँधाबिरोजा,  जलरुह,  नख़्ल,  चंद्रस,  तारपीन,  रूख,  अघ्रिप,  सलई,  इंद्रदारु,  पयोज,  प्रतिबंधक,  रवीन्द,  कमलिनी,  मुकल,  रूखरा,  पलंकष,  गंधराज,  गन्धाबिरोजा,  प्रसूनक,  रूँख,  देवेष्ट,  श्रीपिष्ट,  गंधाबिरोजा,  शक्रदारु,  सर्पेष्ट,  शतदल,  पौध उत्पाद,  चंदन,  प्रफुल्ला,  वारिज,  शृंग,  तारपीन तेल,  आसना,  कमल,  द्रुम,  भूमिजात,  काष्ठ,  पंकजात,  चन्द्रस,  श्लेष्मी,  देवकाष्ठ,  अम्बुज,  विटपी,  वनरुह,  वेष्टक,  देवदार,  श्रीवेष्ट,  जलीय पादप,  वृक्ष,  श्रीधाम,  पुलाकी,  शिगूफ़ा,  दारूगंध,  पद्म,  पंकज,  तामरस,  पिण्डपुष्प,  अरविन्द,  पुतुद्र,