सारंग (saranag) Meaning in English

Adjective

  1. 1. variegated

सारंग (saranag) Meaning in Hindi

  1. 1. जो रस अर्थात् जल या किसी अन्य द्रव पदार्थ से भरा हो
Usage

1. आम एक रसीला फल है ।

Synonyms
Antonyms
  1. 2. देखने में भला और सुन्दर लगने वाला
Usage

1. आज का मौसम बड़ा सुहावना है ।

Synonyms
  1. 3. जो रंगा गया हो या रंगा हुआ
Usage

1. कुछ विधवाएँ रंगीन कपड़े नहीं पहनती हैं । / पंडितजी हल्दी से रंगी धोती पहने हैं ।

Synonyms
  1. 1. छप्पय छंद का छब्बीसवाँ प्रकार
Usage

1. कवि ने सारंग में एक तात्कालिक रचना की ।

Hypernyms
  1. 2. एक प्रकार का बड़ा हिरण जिसके सर पर पाए जाने वाले दोनों सींगों से अनेक शाखाएँ निकली रहती हैं
Usage

1. श्याम चिड़ियाघर में बारहसिंगे को मूँगफली खिला रहा था ।

Synonyms
Hypernyms
  1. 4. एक प्रकार का छंद जिसमें चार तगण होते हैं
Usage

1. यह पद्य सारंग का उदाहरण है ।

Synonyms
Hypernyms
  1. 5. एक बड़ी मधु-मक्खी जो पीले रंग की होती है
Usage

1. छत पर सारंग का बहुत बड़ा छत्ता है ।

Synonyms
Hypernyms
  1. 6. सुगंध देने वाला पदार्थ
Usage

1. कस्तूरी, कपूर आदि गंधद्रव्य हैं ।

Synonyms
Hypernyms
Hyponyms
  1. 7. वह खगोलीय पिंड जो सूर्य की परिक्रमा करता है
Usage

1. पृथ्वी एक ग्रह है ।

Synonyms
Hypernyms
Hyponyms
  1. 9. चंद्रमा के मार्ग में पड़नेवाले स्थिर तारों के सत्ताईस समूह जिनके भिन्न-भिन्न रूप या आकार मान लिए गए हैं और जिनके अलग-अलग नाम हैं
Usage

1. नक्षत्रों की संख्या सत्ताईस हैं ।

Synonyms
Hypernyms
Hyponyms
  1. 10. दीपक के धुएँ की कालिख जो आँखों में लगाई जाती है
Usage

1. हमारे यहाँ छठी के दिन बच्चे को काजल लगाने की रस्म होती है ।

Synonyms
Hypernyms
  1. 13. किसी मादा का वह अंग जिसमें दूध रहता है
Usage

1. माँ अपने स्तन का दूध बच्चे को पिलाती है । / गाय के स्तन को देखकर उसके दूध देने की क्षमता का पता लग जाता है ।

Synonyms
Hypernyms
Hyponyms
  1. 14. एक प्रकार का हिरण जिसके शरीर पर सफ़ेद या अन्य प्रकार की चित्ती पाई जाती है
Usage

1. इस चिड़ियाघर में चीतलों की भरमार है ।

Synonyms
Hypernyms
  1. 15. कन्धे से पंजे तक का वह अंग जिससे चीजें पकड़ते और काम करते हैं
Usage

1. गाँधीजी के हाथ बहुत लंबे थे । / भीम की भुजाओं में बहुत बल था ।

Synonyms
Hypernyms
Hyponyms
  1. 17. रुई, रेशम, ऊन आदि के तागों से बुनी हुई वस्तु
Usage

1. उसने क़मीज़ बनवाने के लिए दो मीटर टेरीलिन का कपड़ा खरीदा ।

Synonyms
Hypernyms
Hyponyms
  1. 18. पौधों में वह अंग जो गोल या लंबी पंखुड़ियों का बना होता है और जिसमें फल उत्पन्न करने की शक्ति होती है
Usage

1. उपवन में तरह-तरह के फूल खिले हुए हैं ।

Synonyms
Hypernyms
Hyponyms
  1. 19. सिर के बाल
Usage

1. काले, लम्बे बाल देखने में अच्छे लगते हैं ।

Synonyms
Hypernyms
Hyponyms
  1. 20. एक पेड़ की सुगंधित लकड़ी जिसे घिसकर शरीर पर लेप लगाते हैं
Usage

1. चंदन शरीर को शीतलता प्रदान करता है ।

Synonyms
Hypernyms
Hyponyms
  1. 21. जमीन जोतने का एक उपकरण
Usage

1. किसान खेत में हल चला रहा है ।

Synonyms
Hypernyms
Hyponyms
  1. 22. मानव निर्मित वह वस्तु जिसके धारण करने से किसी की शोभा बढ़ जाती है
Usage

1. प्रत्येक नारी को आभूषण प्रिय होता है ।

Synonyms
Hypernyms
Hyponyms
  1. 26. सरीसृप वर्ग का एक रेंगने वाला पतला और लंबा जीव जिसकी कई जातियाँ पायी जाती हैं
Usage

1. प्रायः आई आई टी बॉम्बे में कई तरह के ज़हरीले साँप रेंगते हुए देखे जा सकते हैं ।

Synonyms
Hypernyms
Hyponyms
  1. 27. एक देवता जो काम के रूप माने जाते हैं
Usage

1. कामदेव को शिव की क्रोधाग्नि का सामना करना पड़ा ।

Synonyms
Hypernyms
 
सारंग meaning in Hindi, Meaning of सारंग in English Hindi Dictionary. Pioneer by www.aamboli.com, helpful tool of English Hindi Dictionary.
 

Related Similar & Broader Words of सारंग

अंतर्पट,  अजंगम,  शारीरिक अंश,  दीया,  अंड,  रंगा,  कंज,  फणधर,  पुष्पचाप,  मधुमक्खी,  सुलोचन,  भुजा,  लाँगल,  दारुसार,  द्युनिवास,  ज़ेब,  तार वाद्य,  नेत्राञ्जन,  मनोज,  पंचसर,  सुहेलरा,  स्त्रीकोश,  शंबरसूदन,  घनतोल,  पुष्पध्वज,  बारहसिंघा,  धजबड़,  अंगजात,  चितरा,  द्विर,  अभ्यञ्जन,  तारका,  उच्छादन,  विभूषण,  हालत,  भुअंग,  अपांग,  वंश,  ऋक्ष,  मणीवक,  चन्दन,  किरवार,  सुन्दरता,  चेतात्मजा,  जराभीस,  मक्खी,  शिरसिज,  अमानुष,  शफरुक,  शमसेर,  धाराधर,  देव,  फिजा,  तन्तु वाद्य,  काजल,  लांगल,  वसन्तसखा,  तिमिरहर,  रागरज्जु,  मालय,  बाहरी अंग,  मनजात,  तंत वाद्य,  तमोहपह,  पंचशर,  तारा,  बीजल,  अनंग,  रतिवर,  अलंकार,  सुहाना,  आधार,  आभोग,  संकल्पभव,  कुसुमकार्मुक,  बाहु,  आधान,  प्रसूनवाण,  रुद्रारि,  द्रव्य,  अदित,  दीर्घरसन,  अयुग्मबाण,  आशीविष,  रसवंत,  हस्त,  केश,  बाह्य शारीरिक अवयव,  चूची,  दैत्यारि,  अनंगी,  भूतकृत,  अंतःपट,  स्टेज,  असमवाण,  सारङ्ग,  दारु,  चितकबरा हिरन,  शेव,  चितकबरा हिरण,  कुसुम,  श्वसनाशन,  चैत्रसखा,  ढेबरी,  मनमथ,  अबरन,  पवनाश,  दिया,  वसंत-बंधु,  विषमविखिज,  प्रबलाकी,  अय,  धानकी,  शाटक,  कामदेव,  अंजन,  आच,  कुसुमधन्वा,  झषांक,  समर,  शमशेर,  शिरोज,  शारङ्गिका,  अमृताशन,  अमृतबंधु,  राग,  आतपत्र,  वनस्पति अवयव,  काठी,  सुजड़,  चिराग़,  मानव-कृति,  मानव निर्मित वस्तु,  अबलासेन,  शस्त्र,  बाजू,  तेग,  नमुचि,  खगोलीय पिंड,  जलवा,  छप्पय छंद,  अभरन,  श्रीज,  कोष,  कुसुमायुध,  कोश,  सौन्दर्य,  इ,  गंधद्रव्य,  करबाल,  अमृततप,  अलङ्कार,  सुहावना,  मधुसखा,  मधुसुहृद,  शबर,  तन्त्री वाद्य,  दीपध्वज,  छप्पय,  नीलभ,  अञ्जन,  बाँह,  छवि,  उड़ुचर,  आभरण,  धाराट,  पुष्पशर,  त्सरु,  शिरसिरुह,  आच्छादन,  द्युनिवासी,  धटिका,  मधुमाखी,  पट,  मारुताशन,  कन्टेनर,  अहवाल,  अपवारण,  पुष्प,  अम्बर,  संदल,  वारिद्र,  रसीला,  देवता,  सुंदरता,  शम्बरारि,  हरिण,  मधुकरी,  वर्षप्रिय,  वर्षाप्रिय,  चित्तज,  कार्ष्णि,  आत्मप,  सुचिरायु,  रसवान,  शैशिर,  सरस,  अवस्थान,  अघविष,  त्रिशंकु,  अवस्था,  मुगूह,  माद्दा,  पुष्पशरासन,  अयुग्मशर,  सुहेला,  असम्मर,  डाहुक,  अदेह,  आत्मज,  विषदन्तक,  स्थानक,  शारंगी,  हरिन,  आंजन,  सरीसृप जीव,  व्याल,  विश्वप्स,  तलवार,  रूप,  कंदर्प,  शंबरारि,  कुण्डली,  गंधराज,  प्रसूनक,  पन्नग,  अनन्यज,  रतिराज,  फुनिंग,  रागवृन्त,  निषद्वर,  भुजंग,  गीर्वाण,  साँप,  मध्वक,  रसदार,  रंगीन,  षटपदी,  सर्पेष्ट,  वरीषु,  मुहिर,  अमर,  त्रिदिवेश,  शुकवाह,  भव,  चंदन,  कुंडली,  बहार,  तन्तुवाद्य,  कंटेनर,  तंतुवाद्य,  रङ्गदार,  मदराग,  आँजन,  संपुट,  शिरोरुह,  मृग,  चीज़,  अशरीर,  बाल,  रागी,  कपड़ा,  सरीसृप,  शारंगिका,  रवीषु,  बारहसिंगा,  व्याधमीत,  जल्वा,  काष्ठ,  मुमाखी,  शिरोरूह,  सारंगी,  असमशर,  छन्द,  बाती,  आलम,  हस्तास्त्र,  सारंग राग,  स्थिति,  कांति,  चेतोजन्मा,  पिकाङ्ग,  आकाशचारी,  दीपकसुत,  जूलरी,  शिगूफ़ा,  कर्कटी,  रंगा हुआ,  मनोभू,  पंचबाण,  विषमवाण,  श्वसनोत्सुक,  नक्षत्र,  वनस्पति अंग,  पिङ्गल,  सुप्रतीक,  मधुमक्षिका,  वृष्टिजीवन,  तन्तवाद्य,  छत्ता,  अशुष्क,  दीप्ति,  छाजन,  वस्त्र,  धाराविष,  तार्क्ष्य,  स्तन,  बहुक,  आच्छाद,  असुरारि,  अश्मंतक,  बाहरी शारीरिक भाग,  मीनकेतु,  अपिधान,  आहरण,  चित्रमृग,  नभोम्बु,  सर्प,  फिज़ा,  अश्मन्तक,  शिरज,  ज़ीनत,  सूरत,  आकाशीय पिंड,  रङ्गीन,  मधुसख,  आभूषण,  चीतल,  ज़ेवर,  पुष्पधन्वा,  वृंदारक,  कपिंजल,  कुसुमबाण,  तन्त वाद्य,  अजङ्गम,  तिमिररिपु,  दशा,  हृदयनिकेतन,  श्रीवास,  शिगूफा,  मदन,  पपीहा,  चीज,  काला पपीहा,  तंतवाद्य,  मैनावली छंद,  दात्यूह,  आकाश पिंड,  बाह्य अंग,  विषदंतक,  वृजिन,  मानव-कृत वस्तु,  रोचनी,  महागंध,  वाताट,  पिकांग,  पीलु,  आस्पद,  सितारा,  कुक्कू,  वृत्ति,  अन्तःपट,  कवच,  छटा,  दृक्कर्ण,  पुष्पक,  मानवकृति,  उड़ु,  हाथ,  पपैया,  आहू,  इन्दिरा,  हाल,  अण्ड,  झषकेतु,  वातप्रमी,  चातक,  कुंतल,  हथियार,  त्रिशङ्कु,  नछत्र,  छंद,  मैनावली,  दनुजारि,  कृषि उपकरण,  तंतु वाद्य,  कुसुमेषु,  मेघजीवक,  सरीसृप जन्तु,  अभूखन,  अवतंस,  अन्तर्पट,  प्रसूत,  चीर,  पात्र,  वसन्तसख,  रसपूर्ण,  आञ्जन,  कजरा,  मेघजीवन,  आहत,  छप्पय छन्द,  अमृतबन्धु,  फूल,  मन्नथ,  कर,  लकड़ी,  सुमसायक,  प्रसून,  दैवत,  शाला-वृक,  इध्म,  खग,  सारंग चातक,  हुस्न,  वसन,  रमण,  लांगली,  अहि,  इंदिरा,  पुष्पपत्री,  अभिवासन,  फणी,  रागवृंत,  पुलिरिक,  प्रवलाकी,  सुमन,  सम्पुट,  कुसुमचाप,  नागल,  सारङ्गी,  अंबर,  शायक,  मलयज,  सित,  पुष्पायुध,  हुडुक,  त्रिदिवौकस,  पुष्करप्रिय,  मानव कृति,  सुहावन,  लाङ्गल,  चूल,  प्रदीप,  गत,  नभनीरप,  असि,  भट्टारक,  नभोंबु,  सुगंधित पदार्थ,  कृत्रिम वस्तु,  अवरण,  मीनकेतन,  मधुकृत,  दीर्घपृष्ठ,  भुअंगम,  विवुध,  रंगदार,  अनलमुख,  शारङ्गी,  सीर,  दिवौका,  गाकील,  भूषण,  निशापुत्र,  अभिवास,  तोतक,  शोभा,  कुन्तल,  हल,  सुनयन,  छाता,  नयनाञ्जन,  आस्तर,  श्रीपुत्र,  आवरण,  शिखी,  याम्य,  शिखि,  अरत्नि,  त्रिदश,  पंचवाण,  पाढ़ा,  आदितेय,  तेजल,  मकर ध्वज,  वस्तु,  धाम,  कान्ति,  कपिञ्जल,  शृंगारजन्मा,  तंत्री वाद्य,  बोबा,  मीनध्वज,  फणिक,  मधुसहाय,  करवाल,  आच्छादक वस्तु,  बाज़ू,  पवनाशन,  धटी,  गुल,  पुष्पकेतन,  मनसिज,  काठ,  हैजम,  तिरस्क्रिया,  शारीरिक भाग,  रमणीयता,  विषधर,  रागच्छन,  अपीच,  सुर,  आत्मजात,  शारंग राग,  शालावृक,  कुरंग,  छद,  शमसीर,  पदार्थ,  रणरणक,  देवक,  आर्घा,  पिंगल,  नभश्चर,  श्रीवासक,  कजला,  बाह्य शारीरिक भाग,  वसन्त-बन्धु,  विहग,  विषानन,  छतरी,  पवनाशी,  षट्पदी,  मयु,  वाम,  मधुसारथि,  दिवली,  अपत्यशत्रु,  रतिनाथ,  शुक,  दिवला,  शम्बरसूदन,  रतिनाह,  दमजोड़ा,  सारंग छंद,  स्टार,  वसंतसखा,  शारंग,  आँग,  काम देवता,  रूपास्त्र,  नयनांजन,  अस्तन,  दीप,  मोहरी,  तारक,  अंबरौका,  बत्ती,  अपटी,  नाँगल,  लेलिहान,  स्मर,  सौंदर्य,  दीपक,  हिरन,  हिरण,  छबि,  मधुप,  जेवर,  गति,  वसंतसख,  अभ्यंजन,  ग्रह,  अच्छा,  अंगहीन,  ऋभु,  गहना,  चिराग,  संकल्पयोनि,  नेत्रांजन,  उरंग,  अनिलाशी,  आटोप,  रपाती,  जीनत,  रसाल,  कुच,  अवतन्स,  बहिरंग,  शमशीर,  द्विरसन,  लेलिह,  आदित्य,